CET full form in Hindi, जाने सी ई टी क्या है?

 

CET Full Form. हेलो दोस्तो आपका स्वागत है Becreatives में। आज हम आपको इस पोस्ट में बताएंगे कि CET क्या है? और CET full form in Hindi में और English में क्या है?

 

आप अगर सरकारी नौकरी की तैयारी करते है तो आप बहुत से ऐसे पेपर दिए होंगे। जिसके लिए आपको एक शहर से दूसरे शहर पेपर देने के लिए जाना पड़ता है। आपको हर एक पेपर की अलग अलग से तैयारी करनी पड़ती होगी

 

तो Indian government ने छात्रों के सर से इसी बोझ को कम करने के लिए CET को लाया है। यह सरकारी नौकरी की तैयारी करने वाले स्टूडेंट के लिए बहुत ही अच्छी बात है। आइए जानते है Full form of CET.



Content

1. CET full form in Hindi and English

2. CET क्या है?

3. CET के प्रमुख बिंदु

4. CET का परीक्षा प्रारूप

5. More Full form of CET

6. Conclusion

 

 

CET full form in Hindi and English

 

आपको बता दे कि CET ka full form Hindi में " सामान्य पात्रता परीक्षा" और CET full form English में "Common Eligibility Test" होता है।

इसमें सभी प्रकार की केंद्र सरकार के अंतर्गत आने वाली नौकरियों के लिए एक ही प्रारंभिक परीक्षा होती है।

 

दोस्तो आपको बता दे कि केंद्र सरकार के अंतर्गत आने वाली railway, SSC, IBPS, SBI, RRB NTPC, CPWD आदि जैसी परीक्षा में लागू किया जाना है। आइए अब जान लेते है कि CET क्या है और कब , किस पर लागू होगी।

 

CET क्या है?

 

भारत सरकार ने central level पर आने वाली सभी प्रकार की नौकरियों में मुख्य परीक्षा में प्रवेश पाने के लिए सिर्फ एक ही preliminary टेस्ट कराएगा।

जिसे हम CET या Common Eligibility Test कहते है।

 

पहले इन सभी परीक्षाओं के लिए स्टूडेंट अलग अलग फॉर्म भरते थे। और अलग अलग फॉर्म भरने के लिए छात्रों से अलग अलग पैसे लिए जाते थे । जिससे छात्रों पे बोझ ज्यादा रहता था। लेकिन अब आपको इन सभी परीक्षा के लिए सिर्फ एक ही फॉर्म डालना होगा और एक ही परीक्षा देनी होगी। इस परीक्षा को अच्छी तरीके से करवाने की जिम्मेदारी NTA( national Test Agency) के पास होगी।

अभी इस समय इन सभी पेपर को करवाने के लिए फिलहाल २० से अधिक एजेंसी है।

 

CET के प्रमुख बिंदु और लाभ

 

आइए आपको CET के कुछ मुख्य बिंदु के बारे में जान ले कि आपको इस परीक्षा को देने में क्या क्या लाभ हो सकता है।

 

2021 से हर साल CET की परीक्षा साल में दो बार होगी। इसका मतलब CET हर छः माह में एक बार होगी। इससे छात्रों के ऊपर बोझ कम होगा। इसका मतलब आप साल में दो बार परीक्षा दे सकते है और आपके ऊपर कोई लिमिट नही होगी पेपर देने की। आप साल में दो बार पेपर देकर अपने अंदर की कमियों को जल्दी से दूर करके जल्द ही सफलता पा सकते है।

 

 

एक बार CET की परीक्षा पास करने के बाद यह 3 साल के लिए मान्य होगा। इसका मतलब आप पास करने के बाद 3 साल तक किसी भी केंद्र सरकार की नौकरी के लिए उस अंक का प्रयोग कर सकते है जो आपने पाया है।

 

इसमें स्टूडेंट को खुद चुनना होगा कि वह कब कौन सा परीक्षा देना चाहता है। इसका मतलब आप चाहे तो पहले साल बैंकिंग की, दूसरे साल रेलवे की, तीसरे साल एसएससी की परीक्षा दे सकते है। ये आपके ऊपर निर्भर करता है।

 

आगे आने वाले समय में सरकार सभी प्रकार के नौकरियों को CET ले आएगी।

 

CET का परीक्षा प्रारूप

 

आप जिस तरह अभी किसी भी परीक्षा का पेपर देते है ठीक उसी प्रकार ही इसकी भी परीक्षा होगी। इसमें भी आपने पुराने पैटर्न के अनुसार प्रारंभिक परीक्षा की तरह पेपर objective होंगे। किसी भी प्रकार की कोई लिखित परीक्षा नही होगी।

 

पहले इन सभी परीक्षाओं में सिर्फ दो भाषाओं में सवाल पूछे जाते थे। हिंदी और अंग्रेजी। लेकिन अब यह प्रश्नपत्र आपको 12 भाषाओं में मिलेगा।  जिससे हर प्रदेश के छात्रों को पेपर देने में आसानी होगी। आने वाले समय में इन परीक्षाओं को 22 भाषाओं में करने पे जोर रहेगा।

 

More Full Form Of CET

 

CET full form in Time Zone – Central European Time

CET full form in institutes– College of Engineering, Takshshila

 

Conclusion

 

आपने CET full form के बारे में जान लिया है साथ में यह भी जान लिया है कि CET kya hai और किस तरह से उपयोगी है।  अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगे तो अपने दोस्तो के साथ जरूर शेयर करे। अगर आपका इससे संबंधित कोई भी सुझाव या फिर सवाल हो तो आप हमे कमेंट जरुर करे।

धन्यवाद।


अन्य देखे :

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ