OSD Full Form in hindi? - BeCreatives

आपको OSD का फुल फॉर्म नहीं पता है, तो आप सही जगह पर हैं, मैं आपको OSD के फुल फॉर्म के साथ OSD के बारे में और बातें बताऊंगा। आज हम इस पोस्ट में बताएंगे कि OSD full form, OSD full form in Hindi में क्या होता है के बारे में जानेंगे। साथ ही इससे जुड़ी अहम जानकारियां भी दी जाएंगी।

 

OSD full form in Hindi

 

osd full form in government,osd full meaning,osd full form in hindi,osd ka full form,



Full form of OSD in English- Officer on special duty

 

OSD full form in Hindi- ऑफिसर ऑन स्पेशल ड्यूटी

 

OSD kya hai

 

अधिकारियों की नियुक्ति भारत सरकार या राज्य सरकार द्वारा किसी भी प्रशासनिक कार्य के लिए की जाती है। यह नियुक्ति किसी गोपनीय कार्य को करने के लिए की जाती है।

 

जब भी भारत सरकार या राज्य सरकार किसी विशेष कार्य के लिए किसी अधिकारी का चयन करती है तो ऐसी स्थिति में उस अधिकारी को ओएसडी यानि विशेष कर्तव्य अधिकारी कहा जाता है।

 Read also: what is ott platform?

 

आपको स्पष्ट रूप से बता दें कि भारत सरकार या राज्य सरकार में ओएसडी का कोई पद नहीं है। किसी भी सरकारी अधिकारी को इस कार्य के लिए उसके प्रदर्शन को देखते हुए कुछ समय के लिए विशेष कर्तव्य के लिए चुना जाता है।

 

OSD officer के क्या काम है?

 

ज्यादातर लोग सोचते हैं कि OSD का मतलब स्पेशल ड्यूटी पर अधिकारी होता है और वह हमेशा गोपनीय काम के लिए ही चुना जाता है, गोपनीय काम के बारे में हर कोई जानता है, जिसे हम जासूस या एजेंट के रूप में काम करते हुए देखते हैं। है। जो भारत सरकार के लिए काम करता है।

 

लेकिन हकीकत में ऐसा कुछ नहीं होता ओएसडी किसी पद या काम के लिए नियुक्त किया जाता है। और जरूरत पड़ने पर ओएसडी के पद पर भर्ती की जाती है। फिर जब काम हो जाता है तो पद की सीमा समाप्त हो जाती है

 

अधिकांश समय, अधिकारी को ओएसडी के रूप में भी चुना जाता है ताकि वह अन्य क्षेत्रों के काम और जानकारी के बारे में सब कुछ जान सके, और अपने क्षेत्र की सूचना बस तक सीमित न रहकर उसे वहन किया जा सके। ताकि जरूरत पड़ने पर उन्हें किसी भी समय आवश्यक कार्य करने के लिए अन्य विभागों में भेजा जा सके

इसके अलावा जब कभी भी या फिर कई बार किसी Officer का Promote होता है उस समय  किसी ऊँचे पद पर भेजना होता है तब उसके लिए भी Officer को उस पद की Training के लिए Special Duty पर भेजा जाता है।


 Read also: SHO Full form


OSD officer को कैसे चुनते है?

 

आज तक भारत में कई ऐसे अधिकारी हुए हैं जिन्हें समय-समय पर विशेष ड्यूटी पर भेजा गया है और भेजा गया है, आगे भी ओएसडी के रूप में भेजा जाएगा। सिविल सेवा में इस बात का ध्यान रखा जाता है कि किसी भी अधिकारी को 'ओएसडी' में भेजने के लिए उन्हें मुख्य रूप से दो बातों का ध्यान रखना होता है।

 

# 1. जब भी कोई अधिकारी अपने पद पर रहते हुए सरकार के लिए कोई विशेष और अच्छा काम करता है, तो वह सरकार को प्रिय हो जाता है, तो उसके लिए ओएसडी के लिए सरकार चुनना आसान हो जाता है।

#2. इसके साथ ही जब भी सरकार पर किसी प्रकार के विशेष कार्य की जिम्मेदारी होती है तो वह परिस्थितियों में कुछ अधिकारियों को ओएसडी के रूप में भेजकर उस कार्य को पूरी तरह से पूरा करती है।

अब तक भारत में कई ऐसे अधिकारी हुए हैं जिन्होंने ओएसडी के रूप में काम किया है, और उन्हें ओएसडी के लिए भेजा गया है। आइए जानते हैं उनमें से कुछ प्रसिद्ध अधिकारियों के नाम-


 Read also: CET full from


#1 : दुर्गा शक्ति नागपाल

 

#2 : सलमान खुर्शीद

 

#3 : गौतम सान्याल

 

#4 : देशपति श्रीनिवास

 

इन सभी अधिकारियों को सरकार द्वारा अब तक विशेष कर्तव्य के लिए चुना गया है, जिन्होंने कई विशेष कर्तव्य कार्य किए हैं।


इस तरह से आपने OSD Full Form के बारे मे इस पोस्ट मे पढ़ लिया। अगर आपको इससे संबंधित कोई भी अन्य जानकारी चाहिए तो आप हमे कमेन्ट जरूर करे और अगर आपको पोस्ट अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों को जरूर शेयर करे। 


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ