डिजिटल मार्केटिंग क्या है?और डिजिटल मार्केटिंग कैसे करे ? - Becreatives

Becreatives

We are here for you with something different thought that will make you inspire and progressive in your life. our dream is to provide you the best knowledge on any topic by our blog. we want to give you best and best knowledge from here in different way. thank you

Friday, October 2, 2020

डिजिटल मार्केटिंग क्या है?और डिजिटल मार्केटिंग कैसे करे ?




आप लोगों का becreatives मे स्वागत है आज कल आप digital marketing के बारे में बहुत ज्यादा सुन रहे है| अगर आपको इस टॉपिक से जुड़ी कोई भी जानकारी चाहिए तो मै आपको बता दूं कि ये लेख आपके लिए ही है तो आईये  आज हम डिजिटल मार्केटिंग क्या है/ digital marketing kya hai , डिजिटल मार्केटिंग कि क्या आवश्यकता है इन सब के बारे मे जानने की कोशिश करते हैं. और एक कदम आगे कि ओर बढ़ाते है डिजिटल मार्केटिंग मे । क्योंकि आज के समय मे यह बहुत ही तेजी से बढ़ती हुई opportunity है खासकर युवाओं के लिए ।

digital marketing kya hai
digital marketing 


What is Digital Marketing in Hindi? digital marketing कैसे करते है ? डिजिटल मार्केटिंग का स्कोप क्या है ?  यदि आपके मन मे इस तरह के प्रश्न या रहे है तो आप सही जगह आ पहुचे हैं तो आईये शुरू करते है

इंटरनेट के प्रति user का आकर्षण बढ़ने की वजह से आज business means Digital Marketing (डिजिटल मार्केटिंग) को बहुत ही तीव्र गति से अपनाया जा रहा है.और यह न सिर्फ India बल्कि पूरे विश्व मे बहुत ही तेजी के साथ बढ़ रहा है


आज के समय में यदि हम market के stats की ओर नजर डालें तो लगभग 80% shoppers किसी के product को खरीदने से पहले या उसकी service लेने से पहले online research करना पसंद करते हैं. आप खुद सोचिए अगर आपको कोई product खरीदना होता है तो आप अनलाइन जाकर flipcart या फिर amazon जैसी साइट पर उस product के बारे मे जानने कि कोशिश करते है।



ऐसी परिस्थति में किसी भी कंपनी या बिज़नेस के लिए डिजिटल मार्केटिंग को अपनाना बहुत ही महत्वपूर्ण हो जाता है| चलिए अब इसको डिटेल में जानते हैं.

डिजिटल मार्केटिंग क्या है?/ what is digital marketing ?


भारत में डिजिटल मार्केटिंग को समझने से पहले हम पहले इस business को समझ लें। डिजिटल मार्केटिंग उत्पादों को ऑनलाइन बढ़ावा देने के लिए एक मार्केटिंग system है। इसलिए सरल शब्दों में, हम कह सकते हैं कि हम अपने उत्पादों को उन ग्राहकों को बढ़ावा दे रहे हैं जो इंटरनेट का उपयोग कर रहे हैं।

प्रत्येक युग में, ग्राहक जो उपयोग कर रहा है, उसके आधार पर मार्केटिंग विकसित हुआ है। यदि आप इतिहास में वापस जाते हैं, तो आप देख सकते हैं कि कई बार जब ग्राहक रेडियो का उपयोग करते थे, तो इसने रेडियो विज्ञापन और मार्केटिंग को जन्म दिया। इसके बाद, हमें टेलीविज़न का उछाल मिला, यह विश्व स्तर पर व्यापक रूप से उपयोग किए जाने वाले उपकरण में से एक है, जिसने कंपनियों को टीवी विज्ञापनों के साथ बड़े पैमाने पर दर्शकों तक पहुंचने की अनुमति दी। 
आज भी टीवी विज्ञापन कंपनियों के लिए सबसे अधिक उपयोग की जाने वाली विज्ञापन रणनीतियों में से एक है। इंटरनेट के उछाल के बाद से, अधिक ग्राहकों ने इंटरनेट का उपयोग करना शुरू कर दिया, जिसने मार्केटिंग के एक नए युग को जन्म दिया, जिसे मूल रूप से इंटरनेट मार्केटिंग कहा जाता है, जिसे अब डिजिटल मार्केटिंग कहा जाता है।

 डिजिटल मार्केटिंग को समझने के लिए हमें इसके फायदों को समझना चाहिए और यह तब तक कायम रह सकता है जब तक हमें नई पीढ़ी का संचार नहीं मिलता।

Types of Digital Marketing in Hindi


वैसे तो इसके बहुत से प्रकार हैं | परन्तु इसके मुख्य प्रकार निम्नलिखित हैं | इनमे से किसी भी एक पर महारथ (Expertise) हासिल कर आप भी एक बड़े Digital Marketer बन सकते हैं। और समाज मे अपना वर्चस्व कायम कर सकते है।

  • Search Engine Optimization (SEO)
  • Social Media Marketing (SMM)
  • E-mail Marketing
  • Affiliate Marketing
  • Pay-Per-Click (PPC)
  • Apps marketing

ये सभी Digital Marketing के मुख्य प्रकार हैं! जिन्हें ऑनलाइन मार्केटिंग के लिए सबसे ज्यादा प्रयोग में लाया जाता है! और ये काफी प्रभावशाली भी हैं।  और लाभदायक भी ।

  • Search Engine Optimization (SEO)



यह एक ऐसा तकनीकी माध्यम है जो आपकी वेबसाइट को सर्च इंजन जैसे google search engine ,Bing सर्च engine आदि के परिणाम पर सबसे ऊपर जगह दिलाता है जिससे दर्शकों की संख्या में बढ़ोतरी  होती है। इसके लिए हमें अपनी वेबसाइट को keyword और SEO guidelines के अनुसार बनाना होता है। अपने page को google और अन्य search इंजन मे सबसे ऊपर लाने के लिए इन सर्च इंजन के बहुत से टूल है जिनका उपयोग करके आप भी अपनी website को सर्च इंजन मे ऊपर रैंक करा सकते है

  • Social Media Marketing (SMM)



सोशल मीडिया कई वेबसाइट से मिलकर बना है – जैसे Facebook, Twitter, Instagram, LinkedIn, आदि । सोशल मीडिया के माध्यम से व्यक्ति अपने विचार हजारों लोगों के सामने रख सकता है । आप भली प्रकार सोशल मीडिया के बारे में जानते है । जब हम ये साइट देखते हैं तो इस पर कुछ-कुछ अन्तराल पर हमे विज्ञापन दिखते हैं यह विज्ञापन के लिये कारगार व असरदार जरिया है। अधिकतर लोग इन plate forms का प्रयोग अपने ads के प्रमोशन के लिए use कर रहे है और यह बहुत ही तेजी से आपके प्रोडक्ट को लोगों तक पहुचाता है ।

  • E-mail Marketing


किसी भी कंपनी द्वारा अपने उत्पादों को ई-मेल के द्वारा पहुंचाना ई-मेल मार्केटिंग है। ईमेल मार्केटिंग हर प्रकार से हर कंपनी के लिये आवश्यक है क्योंकि कोई भी कंपनी नये प्रस्ताव और छूट ग्राहको के लिये समयानुसार देती हैं जिसके लिए ईमेल मार्केटिंग एक सुगम रास्ता है।


  •  Affiliate Marketing


वेबसाइट, ब्लोग या लिंक के माध्यम से उत्पादनों के विज्ञापन करने से जो मेहनताना मिलता है, इसे ही अफिलिएट मार्केटिंग कहा जाता है। आसान शब्दों मे कहे कि जब हम अपनी website के माध्यम से किसी company के प्रोडक्ट के ads दिखते है तो वो कंपनी हमे उसके बदले पैसे देती है। इसके अन्तर्गत आप अपना लिंक बनाते हैं और अपना उत्पाद उस लिंक पर डालते है । जब ग्राहक उस लिंक को दबाकर आपका उत्पाद खरीदता है तो आपको उस पर commission मिलता है।

  • Pay-Per-Click (PPC)


जिस विज्ञापन को देखने के लिए आपको भुगतान करना पड़ता है उसे ही पे पर क्लिक ऐडवर्टीजमेंट कहा जाता है। जैसा की इसके नाम से विदित हो रहा है की इस पर क्लिक करते ही पैसे कटते हैं । यह हर प्रकार के विज्ञापन के लिये है ।यह विज्ञापन बीच में आते रह्ते हैं। अगर इन विज्ञापनो को कोई देखता है तो पैसे कटते हैं । यह भी डिजिटल मार्केटिंग का एक प्रकार है।

  • Apps marketing


इंटरनेट पर अलग-अलग ऐप्स बनाकर लोगों तक पहुंचाने और उस पर अपने उत्पाद का प्रचार करने को ऐप्स मार्केटिंग कहते हैं । यह डिजिटल मार्केटिंग का बहुत ही उत्तम रस्ता है। आजकल बड़ी संख्या में लोग स्मार्ट फ़ोन का उपयोग कर रहे हैं । बड़ी-बड़ी कंपनी अपने एप्स बनाती हैं और एप्स को लोगों तक पहुंचाती है।


डिजिटल मार्केटिंग की आवश्यकता क्यों है why Need of digital marketing ?

 

डिजिटल मार्केटिंग से अपने प्रोडक्ट को सबसे आसान और जल्दी से promote  करा के लोगों के बीच में ला सकते हैं
डिजिटल मार्केटिंग को ऑनलाइन मार्केटिंग भी कहते हैं यह ऑफलाइन मार्केटिंग की अपेक्षा सस्ता होता हैडिजिटल मार्केटिंग से आपका रिजल्ट बहुत अच्छा होता है
डिजिटल मार्केटिंग से आप अपने प्रोडक्ट की ऐड उन लोगों तक पहुंचा सकते हैं जो लोग इस प्रोडक्ट के इच्छुक है और वह सर्च कर रहे हैं
डिजिटल मार्केटिंग में आप कई तरीकों से अपने प्रोडक्ट को प्रमोट कर सकते हैं
डिजिटल मार्केटिंग से आपके प्रोडक्ट की वैल्यू बढ़ जाती है
डिजिटल मार्केटिंग से आप अपने प्रोडक्ट को ऑनलाइन बेच सकते हैं

डिजिटल मार्केटिंग कैसे शुरू करें (how to start digital marketing)


डिजिटल मार्केटिंग आप कई तरीकों से शुरू कर सकते हैं डिजिटल marketing कैसे शुरू करे। 
तो अब हम जानते हैं कि किन किन तरीकों से कर सकते हैं

  • ब्लॉगिंग blogging


अगर आप डिजिटल मार्केटिंग कराना या करवाना चाहते हैं तो ब्लॉगिंग सबसे अच्छा तरीका है यहां पर आप फ्री में काम कर सकते है आज बहुत से लोग ब्लॉगिंग की वजह से डिजिटल मार्केटिंग की दुनिया में आ गए हैं और वह डिजिटल मार्केटिंग में स्पेशल बन चुके हैं अगर आप को डिजिटल marketing करवाना चाहते है तो आप किसी ब्लॉगर हायर कर सकते है  अगर आप ब्लॉगिंग शुरू करना चाहते हैं तो यहां क्लिक करें

  • यूट्यूब (you tube)



आज अगर इंडिया में कोई चीज सबसे ज्यादा ऑनलाइन देखी जा रही है तो वह यूट्यूब है
आज इंडिया में यूट्यूब पर सबसे ज्यादा ट्रैफिक आ रहा है यूट्यूब पर आप अपने किसी भी प्रोडक्ट को वीडियो के माध्यम से promote कर सकते हैं आज ऐसे बहुत से लोग हैं जो कि यूट्यूब पर बड़े-बड़े कंपनियों से पैसे लेकर उनकी प्रोडक्ट को प्रमोट करते हैं youtuber कंपनी की प्रोडक्ट को लेकर एक वीडियो बनाता है और उसे यूट्यूब पर अपलोड कर देता है

  • सोशल मीडिया (social media)


डिजिटल मार्केटिंग करने के लिए डिजिटल मार्केटिंग सबसे बेहतर और आसान तरीका है इस तरीके का इस्तेमाल बहुत से लोग कर रहे हैं आज इंडिया में सबसे ज्यादा लोग सोशल मीडिया यूज करते हैं जैसे फेसबुक इंस्टाग्राम टि्वटर ब्लॉग आदि इन सभी सोशल मीडिया पर अपने विज्ञापन तो जरूर देखा होगा

  • गूगल एड्स google ads


जब आप इंटरनेट यूज करते हैं और इंटरनेट पर कुछ भी सर्च करते हैं तो कभी कभी आपको विज्ञापन भी दिखाई देते हैं इसमें से बहुत से विज्ञापन गूगल द्वारा दिखाए जाते हैं गूगल ads की मदद से आप अपने प्रोडक्ट की मार्केटिंग कर सकते हैं यहां पर आप पैसे देकर अपने प्रोडक्ट की ad लगवा सकते हैं गूगल ads के द्वारा कई प्रकार के विज्ञापन चला सकते हैं । 

दोस्तों मैं आपको बता देना चाहता हूं कि डिजिटल मार्केटिंग की और भी अन्य तरीके होती है लेकिन आप को उन तरीकों को ही जानना चाहिए जिसमें आपको ज्यादा से ज्यादा ट्रैफिक मिल सकते हैं जिससे आपके प्रोडक्ट को बहुत लोग देख सकते हैं और आपकी अधिक सेल हो सके। 

Conclusion:निष्कर्ष -


डिजिटल मार्केटिंग एक एसा माध्यम बन गया है जिससे कि मार्केटिंग (व्यापार) को  बढ़ाया जा सकता है। इसके उपयोग से सभी लाभान्वित हैं । उपभोक्ता व व्यापारी के बीच अच्छे से अच्छा ताल-मेल बना रहे हैं , इसी ताल मेल को डिजिटल मार्केटिंग द्वारा पूरा किया जा सकता है । डिजिटल मार्केटिंग आधुनिकता का एक universal example है।

No comments:

Post a Comment